Latest Updates

Showing posts with label Kaizenकाइजेन. Show all posts
Showing posts with label Kaizenकाइजेन. Show all posts

Six Sigma Methodology

October 27, 2020

Six Sigma Methodology 


Six Sigma Methodology

Six Sigma has two methods DMAIC and DMADV, each with its own set of recommended procedures to be implemented for business transformation.
Six Sigma uses two different sets of methodology as lenses to examine and address complementary aspects of business processes.
Each method has its own data and tools, through which it can be used to improve business processes.

What is DMAIC? 

DMAIC is a data-driven approach that is used to improve existing customers or services, and also to improve customer satisfaction. DMAIC is used in a product manufacturing organization or any service delivery company.

 DMAIC has five steps

D - Define

M-take measures

A -Analyze

I - improve

C -control

What is DMADV?

DMADV is a part of Six Sigma design, DMADV is used to redesign the processes of product manufacturer or service delivery. 

Remember DMADV is employed when existing processes do not meet customer requirements, meaning DMADV is used to replace your existing processes, or even if your product or project needs to be developed DMADV Is required.

DMADV has five steps:

D-Define

M-measures

A-Analyze

D- Design

V-Verify

Difference Between DMAIC and DMADV

DMAIC is used, or will be, when you are trying to improve or develop a process that already exists, meaning your product or If there is a need to improve or develop a little project.

DMADV is used when redesign is to redesign your product or project. By the way, the purpose of both the methods is the same, to solve the problem of your business in a complete way. 

DEFINE 

The six Sigma process begins with a customer-centric approach.

stage 1: Business problem is defined from the customer's point of view.
stage 2: The target has been set. What do you want to achieve What resources will you use to achieve the goal?

stage 3: map the process. Together with stakeholders verify whether you are on the right track.

MEASURE 

MEASURE- In this, you need the data of the instruments used to make measurements, and also need to know the answers to some questions. How can we improve? How can we determine this?
 
stage 1: Measure your problem data with data on how to improve.
stage 2: Evaluate the data system to be improved, then you will know whether it can help you achieve your result or not?

ANALYZE 

This is the process to find the affected Variable, which enables us to analyze.
stage1: 100 percent Determine if your process is efficient and effective, can the process help you achieve what you want?

stage 2: Set your goals. For example, reduce defective items by 20%.

stage 3: Identify differences using your old data.

IMPROVE 

This process examines how the effect of your old data changes to the new data, this stage is where you identify how you can improve the process by implementing it.

Stage 1: identify possible causes.
Stage 2: Discover the relationship between Variable.


CONTROL 

In this final stage, you determine whether the performance and purpose identified in the previous stage are implemented well, and whether the designed improvements are sustainable.

stage 1:
Validate the measurement system used.

stage 2: establish process capability. Whether the goal is being met or not? For example, is the goal of reducing defective items up to 20 percent achievable?

stage 3: Once the previous stage is satisfied, implement the process.


Six sigma technique 

The Six sigma method also uses a mixture of Proven qualification and quantitative techniques to achieve desired results.

A : Brainstorming 
B : Root cause analysis
C : Voice of the customer
D: The 5s system
E: Kaizen
F: Benchmarking
G: Poka -Yoka / Mistake proofing
H: Value Strem Maping

Brainstorming 

Brainstorming is an important process of any problem solving method and is often used in the "improvement" phase of the DMAIC method.

Before starting any tool, it must be a necessary process. Create a group and brainstorm and sit with everyone and creatively raise the problem and then implement it.

Root Cause Analysis/The 5 Whys 

This technique helps to get to the root of the problems under consideration, and is used in the "analysis" phase of the DMAIC cycle.

5 Why 

5why In this technique, the question of "why" is asked repeatedly, eventually leading to the main issue. Although "five" is a rule of thumb, the actual number of questions can be more or less, whatever it takes to get clarity.

Voice of the Customer 

It is a process used to capture the "voice of the customer" or the customer's response through internal or external means. The aim of technology is to provide the best products and services to the customer.

It captures the changing needs of the customer in direct and indirect ways. The voice of the customer technique is used in the "Defined" phase, usually to address the problem.

The 5S System 

The purpose of the 5S system is to remove waste and remove obstacles from unskilled equipment, equipment, or resources in the workplace. The five stages used are ciri (sort), citan (set in order), ciso (shine), csetsu (standardized), and shitsuke (susten). The 5S system will be known to many of you and we have also written a blog.

Kaizen (Continuous Improvement) 

Kaizen technology is a powerful strategy, which powers a continuous engine to improve business. It makes it a practice to continuously monitor, identify and implement reforms.

This is a particularly useful practice for the manufacturing sector. Ensures collective and ongoing improvement, and helps make immediate changes.

Poka-yoke (Mistake Proofing) 

The name of this technique comes from Japanese phrases, meaning "to avoid errors," and prevents the possibility of mistakes being made.
In the poka-yoke technique, employees overcome disabilities and human errors during the manufacturing process.

This is for You:

You can follow me on Facebook page and join my group.

Facebook Page :  Facebook Group


5 elements of Kaizen | Kaizen के 5 तत्व क्या हैं | Kaizen elements Hindi

February 15, 2020

5 elements of Kaizen | Kaizen के 5 तत्व क्या हैं | Kaizen elements Hindi

What are the 5 elements of kaizen in Hindi? 5 kaizen method

kaizen -दोस्तों पिछले ब्लॉग में आपने जाना की Kaizen क्या है और उसके Benifit क्या है आज हम जानेंगे उसकी 5 elements of kaizen जिस पर Kaizen Focused है, जो अक्सर (modern)आधुनिक Management के Discussions के reference में उपयोग की जाती है।


5 Elements of kaizen?


                     1. बिंदु काइज़न- Point kaizen


यह काइज़न के सबसे अधिक Implemented Types में से एक है। यह बहुत जल्दी और आमतौर पर बिना ज्यादा प्लानिंग के होता है। जैसे ही कुछ टूटा हुआ या गलत पाया जाता है, उस Issues को ठीक करने के लिए Quick and immediate उपाय किए जाते हैं। 

ये उपाय आम तौर पर छोटे, अलग-थलग होते हैं और लागू करने में आसान होते हैं, हालांकि इनका बहुत बड़ा प्रभाव है 

कुछ मामलों में, यह भी संभव है कि एक क्षेत्र में बिंदु काइज़ेन के सकारात्मक प्रभाव कुछ क्षेत्रों में बिंदु काइज़न के लाभों को कम या समाप्त कर सकते हैं। 

प्वाइंट काइज़न का एक उदाहरण एक Supervisor द्वारा एक दुकान निरीक्षण हो सकता है और वह टूटी हुई सामग्री या अन्य छोटे मुद्दों को ढूंढता है, और फिर दुकान के मालिक से उन मुद्दों को सुधारने के लिए एक त्वरित काइज़न (5 एस) करने के लिए कहता है।

What are the 5 elements of kaizen in Hindi? 5 kaizen method


2. सिस्टम काइज़ेन- System kaizen

System kaizen एक संगठित तरीके से पूरा किया जाता है और एक संगठन में सिस्टम स्तर की समस्याओं का समाधान करने के लिए तैयार किया जाता है।

यह एक ऊपरी स्तर की रणनीतिक योजना method है जिसके result समय की लंबी अवधि में कई Employed काइज़न कार्यक्रम होते हैं। यह बिंदु काइज़न के विपरीत है जो आम तौर पर एक छोटे से issues की पहचान के result होता है जिसे कुछ समय में हल किया जाता है।

What are the 5 elements of kaizen in Hindi? 5 kaizen method

3.रेखा काइज़न - Line kaizen

इस reference में लाइन बिंदु से लाइन के एक फैले हुए Structured या लाइन को Discrete करने के लिए Referenced करता है। उदाहरण के लिए, काइज़न को एक प्रक्रिया (Point) पर लागू किया जा सकता है, लेकिन Downstream process के लिए भी। वे दो बिंदु एक लाइन काइज़न का गठन करते हैं।
What are the 5 elements of kaizen in Hindi? 5 kaizen method

एक और उदाहरण Applicable in purchase हो सकता है, लेकिन योजना department में भी लागू किया जा रहा है। यहाँ इस मामले में, योजना खरीद से ऊपर की ओर है और काइज़ेन उन दो बिंदुओं पर किया जाता है, जो इस प्रकार एक रेखा बनाता है।

4. विमान काइज़न - Aircraft kaizen

यह लाइन काइज़न का Next upper स्तर है, जिसमें कई लाइनें एक साथ जुड़ी हुई हैं। आधुनिक Glossary में, इसे मूल्य धारा के रूप में भी Described किया है,। इसे एक लाइन में किए गए बदलाव या सुधार के रूप में देखा जा सकता है जिसे कई अन्य लाइनों या प्रक्रियाओं पर लागू किया जा रहा है।

What are the 5 elements of kaizen in Hindi? 5 kaizen method

5. क्यूब काइज़ेन - Cube Kaizen


उस स्थिति का Description करते हैं, जहाँ विमानों के सभी बिंदु एक-दूसरे से जुड़े होते हैं और कोई भी बिंदु एक-दूसरे से अलग नहीं होता है। यह एक ऐसी स्थिति से मिलता-जुलता होगा जहां लीन पूरे संगठन में फैल गया है। विमान, या अपस्ट्रीम या डाउनस्ट्रीम के माध्यम से सुधार ऊपर और नीचे किए जाते हैं, 

जिसमें पूर्ण संगठन, Suppliers और ग्राहक शामिल हैं। इसके लिए मानक व्यवसाय प्रक्रियाओं में भी कुछ बदलावों की आवश्यकता हो सकती है।


What are the 5 elements of kaizen in Hindi? 5 kaizen method





काइज़ेन एक दैनिक प्रक्रिया है, जिसका उद्देश्य सरल Productivity सुधार से परे है। यह एक प्रक्रिया भी है, जब सही ढंग से किया जाता है, तो कार्यस्थल का Humanization करता है, अत्यधिक कठिन परिश्रम (Waste) को समाप्त करता है, और लोगों को सिखाता है कि वे Scientific method का उपयोग करके अपने काम पर प्रयोग कैसे करें और व्यावसायिक प्रक्रियाओं में बर्बादी को कैसे दूर करें और कैसे खत्म करें। 


सभी में,Process workers के लिए और उत्पादकता बढ़ाने के लिए एकHuman perspective का सुझाव देती है: "विचार कंपनी के लोगों का पोषण करना है जितना कि काइज़ेन गतिविधियों में भागीदारी की प्रशंसा करना और प्रोत्साहित करना है।"सफल implementation के लिए "भागीदारी की आवश्यकता है"। कार्यकर्ताओं में सुधार।                        What are the 5 elements of kaizen in Hindi? 5 kaizen method

संगठन के सभी स्तरों पर, सीईओ से लेकर चौकीदार तक के कर्मचारियों के साथ-साथ बाहरी हितधारकों
भी काइज़ेन में भाग लेते हैं। काइज़ेन ज्यादातर टोयोटा के रूप में Manufacturing operations से जुड़ा हुआ है, लेकिन इसका उपयोग Non-manufacturing environment में भी किया गया है। 

काइज़ेन का प्रारूप व्यक्तिगत, सुझाव प्रणाली, छोटा समूह या बड़ा समूह हो सकता है। लेकिन टोयोटा में, यह आमतौर पर एक कार्य के तोर पर सुधार के लिए काइज़ेन होता है और इसमें अपने काम के माहौल और उत्पादकता में सुधार के लिए एक छोटा समूह शामिल होता है।

What are the 5 elements of kaizen in Hindi? 5 kaizen method

 इस समूह को अक्सर लाइन सुपरवाइज़र द्वारा काइज़न प्रक्रिया के माध्यम से निर्देशित किया जाता है; कभी-कभी यह लाइन Supervisor की भी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। कंपनियों केDepartmental scale पर काइज़न करके quality management Generate करता है, और मशीनों और Computing power का उपयोग करके Productivity में सुधार और Human efforts को मुक्त करता है।


🔯 Dear Friends इस Blog में आपने जाना की Kaizen के ५।  elements के बारे में आगे आप लोग जानेंगे काइज़न Implement कैसे करते है.  

🔯 Friends आपको मेरा ये Blog कैसा लगा या मेरे लिए कोई सुझाव हो तो  Please Comment Section में लिखिए और अपने Friends को शेयर कीजिये 

आप इसे भी देख सकते है :

ज्यादा जानकारी के लिए Home Page पे जाकर Menu को देख सकते है।   









What is KAIZEN Hindi | How to work kaizen | kaizen क्यो Important है

February 14, 2020

What is KAIZEN Hindi | How to work kaizen | kaizen क्यो Important है

KAIZEN क्या है?

What is Kaizen?Kaizen काइजेन एक जापानी शब्द है जिसका मतलब होता है 


KAI + ZEN 

CHANGE + GOOD 

अच्छे के लिए बदलाव 

Kaizen एक जापानी शब्द है ये दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है।

KAI + ZEN जिसका मतलब होता है CHANGE + GOOD 

(बदलाव अच्छे के लिए) ऐसा कोई भी बदलाव जो Improvement तरक्की के लिए जो हम कर सकते है उसे हम काइज़ेन KAIZEN कहते है।  

इसमें हम छोटे छोटे Improvement बदलाव करते रहते है जिससे की उत्पादन Productivity बढ़ती है और Waste छति कम होती है। 

किसी भी ऑर्गनिज़शन Organisation या कोई भी काम करने वाली जगह पे हर ब्यक्ति चाहे वह House-keeping सफाई वाला आदमी हो या Staff ऑफिस में काम करने वाला हो हर ब्यक्ति जहा काम कर रहा है अपने जगह या आस पास में रोज छोटे छोटे Improvement बदलाव करे उसे KAIZEN कहते है।  

अगर ऐसा होगा तो company या shop या कोई भी  Organisation दिन प्रतिदिन Growth तरक्की करेगा 

KAIZEN क्या है?

आमतौर पे किसी Organisation या कंपनी में तीन ३ तरह के (Waste) छति देखा गया है जिसपे अकसर ध्यान नहीं दिया जाता है. आइये देखते है इसके तीन कारण। 

Three Type of Waste in Organisation


1. People waste - Manpower कर्मचारी की बर्बादी 2. Quality Waste -गुड़वाता की जांच नहीं होगी 3. Quantity waste - defects दोष के कारन होने लगेगा 



People waste - Manpower कर्मचारी की बर्बादी
1. Over processing 
2. Unnecessary Motion or movement 
3. Weating 

१. Over processing - किसी भी चीज को requirement आवश्य्कता से ज्यादा करना।  एक बार inspection चेक करने के बाद दूसरी बार inspection करना  या एक बार किसी चीज को रख कर फिर दूसरी बार कही और रखना और तीसरी बार कही और रखना waste कहलाता है. 

जैसे एक बार सफाई किया फिर दूसरी बार (cleaning) सफाई किया जो की जरुरत नहीं थी फिर भी हमने किया इसे Over processing कहते है। 

२. Unnecessary Motion or movement - किसी भी तरह के Motion or Movement  हो जैसे आप किसी सामान को इधर से उधर कर रहे हो या किसी computer के (File)फाइल या (folders) फोल्डर को इधर उधर (move) करते रहते हो उसे Motion कहते है हमें बिना मतलब का movement नहीं करना चाहिए। इसे हम रोक तो नहीं सकते लेकिन इसे काम काम किया जा सकता है kaizen की मदद से 

३. Wating  -किसी भी तरह के Wating जो है waste हो सकती है। अगर आपका (shop) दुकान बंद है (shopkeeper) दुकानदार के वजह से या machine बंद है खरब होने के वजह से या company बंद हो power न होने के वजह से या (computer) कंप्यूटर से किसी को Email नहीं कर पा रहे है। 

INTERNET की वजह से ऐसे किसी भी कारण से आप या आपके कर्मचारी बैठ कर WAIT कर रहे है ओ WASTE कहलाता है। आप ऐसे सरे WASTE  का IDENTIFY कीजिये और उसपे KAIZEN कीजिये और सुधर लाइए। 




Quality Waste तीन प्रकार के होते है 


1.Inventory 

2. Over Production  

3. Transportation 




१. Inventory - किसी भी तरीके का हो चाहे वो working progress हो या finish good हो हर तरह का inventory एक बड़ा waste है Inventory जहा जमा हो जाता है मतलब आपका (work) काम अच्छा से नहीं चल रहा है या रुका हुआ है. 



२. Over Production- Over Production को बहुत बड़ा waste माना गया है अगर आप बहुत production करेंगे तो इससे जगह की कमी होगी और इससे कई सारि problem generate होगी जैसे सामान का खोना (Material not traceable)  इत्यादि .





३. Transportation - किसी भी कंपनी (company) में कोई भी transportation हो रहा हो जैसे material को movement  या किसी और भी चीज का अगर transportation से कोई भी VALUE ADD नहीं होती तो हमें तुरत फालतू आवाजाही unnecessary transportation को बंद कर देना चाहिए नहीं तो ये transportation Waste कहलाएगा।  


Quantity waste



Quantity waste - Defects से होता है - किसी भी तरह के रिजेक्शन या फिर rework अगर ज्यादा हो रहा है एक बहुत बड़ा waste है इसके कई सरे कारन हो सकते है जैसे: Man , Machine ,materials, Method, Measurement और environment इनमे से किसी भी कारन से हमारा Defects हो सकता है हमें इनको control करना है 


अगर control नहीं होगा तो CUSTOMER के पास ख़राब माल या सामान  SUPPLY होगा .और अगर वापस करके फिर भेजा तो COST भी बढ़ जायगा और CUSTOMER को SATISFACTIONS भी नहीं मिलेगा। 

KAIZEN कैसे सुरु करे?


(KAIZEN) काइज़ेन की एक (Meeting) मीटिंग होती है जिसमे सभी (department) डिपार्टमेंट के (employee) कर्मचारी को शामिल किया जाता है. और उन्हें इसके बारे में बताया जाता है. की हमें KAIZEN क्यों करना चाहिए? इसको करने से क्या क्या लाभ हो सकता हैं 

हमें kaizen क्यों करना चाहिए?


१. काम कीमत में अच्छा व best Qulity का product बनाने के लिए 
२. Customer की जरुरत के अनुसार अच्छी qulity का product बनाने के लिए 
३. कच्ची माल और ईंधन की बढ़ती हुई कीमत को देख कर 
४. अत्यधिक और अच्छी माल बनाने के लिए  

KAIZEN में हम कैसे योगदान दे सकते है?


१. (Organization) कार्यशथल में 5S system सिस्टम का USE प्रयोग करके 
२. कार्य प्रणाली(work place) में छोटे छोटे सुझाव देकर 
३. अनुशासन बनाकर 
४. अपने कार्य से सम्बंधित सरलीकरण करके 
५. जो हम काम करते है उसे और आसान बनाकर 
६. Quality में लगतार सुधार करके 
७. कार्य के दौरान आने वाली समस्या के समाधान में बढ़ चढ़ कर भाग लेने में. 

KAIZEN
change for the better then before 
Daily practice continue improvement 


आप इसे भी देख सकते है :
ज्यादा जानकारी के लिए Home Page पे जाकर Menu को देख सकते है।   







 

Copyright (c) 2020 Businessesmanagement.com All Right Reseved

Copyright © Business Management . businessesmanagement | Distributed By Business Management Templates