Value creation in Business-Hindi

Value creation in Business-Hindi 

Value creation in Business-Hindi | value creation strategies| Value Creation Process to success business
www.businessesmanagement.com


कोई ऐसी चीज बनाएं ,जिसे लोग चाहते है। ... आवश्यकता से ज्यादा मूल्यवान कुछ नहीं है जिसको आप पूरा करने के लिए बनाने जा रहे हो या बेचने जा रहे हो। 




हर सफल व्यापर को कोई न कोई मूल्यवान बस्तु ही बनाता है संसार किसी ना किसी तरह से दूसरे लोगो के जीवन को बेहतर बनाने में जुटी हुई है और आज और अभी भी बेहतर बनाने के अवसर भरा पड़ा हैas Businessman आपका काम उन चीजों को पहचानना है , जो लोगो के पास पर्याप्त नहीं है ,और फिर वे चीजे को बनाने और देने का तरीका आपको खोजना है।


आप जो भी Value create करते है जैसे भी करते है उसके कई अलग अलग रूप हो सकते है लेकिन ब्यापार का उद्देश्य सिर्फ एक ही रहता है वो है : किसी दूसरे के जीवन को बेहतर बनानाValue create किये बिना दुनिया को कोई business नहीं चल सकता - आप दुसरो से तब तक मूल्य नहीं ले सकते और नहीं लेना चाहिए जब तक की आपके पास बदले में देने के लिए कोई मूल्यवान चीज न हो।


संसार केश्रेस्ट ब्यपार वे है जो दूसरे लोगो के ज्यादा Value create करने की कोसिस करता है। लेकिन आज भी कुछ business है या बिज़नेस वाले है जो लोगो को यानि customer को थोड़ा Value देने की कोसिस करते है यानि कम value की चीजे देते है और उनसे ज्यादा value वसूलते है ऐसे business ज्यादा दिन तक नहीं चलेगा। आपका व्यवसाय उतना ही बेहतर होगा जितना आप आप दुसरो के बारे में बेहतर सोचेंगे।

आप ये समझ लीजिये की बिज़नेस एक process है जो हर बार दोहराया जाता है और इससे पैसा कमाया जाता है।


Every business has five parts हर व्यवसाय के पाँच भाग होते हैं 



1. मूल्य वर्धित उत्पाद बनाना और बेचना या पहुँचाना- Creating and selling or delivering value-added products 

2. लोग क्या चाहते है और उनको क्या जरूरत है- What people want and what they need 

3. एक ऐसी वैल्यू पर जो वो चुकाने के इच्छुक रहते है- At a value they are willing to pay 

4. एक ऐसे तरीके जो ग्राहक की आवश्यकताओं और अपेक्षाओं को संतुष्ट करता हो- A method that satisfies the customer's needs and expectations. 

5. व्यवसाय इतना लाभ कमाये की चलती रहे और बढ़ती रहे- Business should continue to earn so much profit and grow



दोस्तों इससे कोई फर्क नहीं पड़ता की आप ये व्यवसाय अकेला चला रहे है या आपके पास बहुत बड़ी टीम है इन पाँच भाग से अगर एक भी हटा दिया जाए तो आपका व्यवसाय व्यवसाय नहीं रहेगा कुछ और हो जायगा।

हर व्यवसाय लगभग पाँच चीजों पे निर्भर रहती है ये सब एक दूसरे से जुडी connect होती है: 



1. मूल्य उत्पन करना Generating value -यह पता लगाना की लोगी की क्या जरुरत है या उनकी इक्छा। फिर इसे बनाना या provide करना। 

2. Marketing विपणन -आपने बनाया है या बेचने वाले है उसके लिए लोगो ध्यान आकर्षित करना यानि लोगो तक information देना की आप क्या बना रहे है या क्या बेच रहे है और उनकी मांग को बढ़ाना 

3. बिक्री sale -संभावित ग्राहकों को भुगतान वाले ग्राहकों में बदलना 

4. मूल्य पहुँचाना Price up -आपने जो वादा किया है अपने customer ग्राहकों से वो देना सुनिश्चित करे की उनको मिले और वो हमेसा संतुष्ट हो। 

5 . वित्त Finance (Positive cash flow) आपकी व्यवसाय हमेसा चलती रहे और आपकी मेहनत को लाभप्रद बनाने लिए पैसा आना जरुरी है इसपे ध्यान दें। 


यदि ये पांच चीजे आपको सरल लगती है तो ऐसा इसलिए की आप बिज़नेस करना जानते है या समझ चुके है या आप business करने के लायक है। व्यवसाय कोई rocket science नहीं है और न ही था। अगर कोई भी ब्यक्ति व्यवसाय को इससे ज्यादा जटिल और समस्या बताता है, तो वह या तो आपको प्रभावित करने की कोशिस कर रहा है, या आपको कोई ऐसी चीजे बेचने की कोसिस कर रहा है जिसकी आपको जरुरत नहीं है 

आप इसे भी देख सकते है   :


ज्यादा जानकारी के लिए Home Page पे जाकर Menu को देख सकते है।   












Share this:

Post a Comment

Thank you for your comment.

 

Copyright (c) 2020 Businessesmanagement.com All Right Reseved

Copyright © Business Management . businessesmanagement | Distributed By Business Management Templates